Thursday, March 29, 2012

मौत का राज़-फाश

मृतक रिंकू

छत्तीसगढ़ के राजनांदगाँव ज़िले का एक छोटा सा गाँव गर्रा जहां तरक्की के इस दौर में भी गाँव वालों ने आपसी रज़ामन्दी से एक ऐसा फैसला ले लिया जिससे पूरे ईलाके में दहशत का माहौल हो गया ।घटना से जुड़े मामलों की भनक गाँव वालों ने किसी को लगने नहीं दी पर जब राज़ फाश हुआ तो पुलिस महकमे सहित लोगों में सनसनी  फैल गयी ।
मृतिका नीलम्
प्रदेश के मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र राजनांदगाँव ज़िले के छुईखदान थाना क्षेत्र में आने वाले गाँव गर्रा में ज़बरदस्ती शादी किये जाने से बचने के लिये एक प्रेमी जोड़े की आत्महत्या करने का सनसनीखेज मामला सामना आया है।गाँव वालों ने इस मामले में अजीब तरह की चुप्पी साध रखी है। गाँव का कोई भी निवासी ग्राम पंचायत के पंच,कोटवार सब खामोश हैं।
मृतक को इसी स्थान पर जलाया गया
कोई भी प्रेमी जोड़े के बारे में कुछ नहीं बोलना चाहता है।बीती 21 मार्च की रात से गायब गाँव के 23 साल के घनश्याम उर्फ रिंकू और 20 साल की नीलम के बीच मोहब्बत परवान चढ़ चुकी थी।दोनों ने साथ मिलकर जीने मरने की कस्में खा ली थीं पर दोनों के परिवार वाले इस बात पर उनसे बेहद नाराज़ थे और दोनों की अलग-अलग जगह शादी करवाने की कोशिशें भी जारी थी।पर 21 मार्च की रात दोनों नें अपनी मोहब्बत को एक खतरनाक अंजाम देने का फैसला ले लिया और दोनों ने गाँव के ही एक कोठार में ज़हर खा कर अपनी जान दे दी।
इसी नाले में बहा दी गयी दोनों की अस्थियां
 गाँव वालों को जब उनके घर मे ना होने की बात पता चली तो हड़कम्प मच गया और दोनों की पतासाजी करने पर दोनों को एक कोठार मे मरा पाया गया। प्रेमी जोड़ो की लाश देखकर पूरा गाँव सकते में आ गया और सब ने बदनामी से बचने के लिये दोनों की लाश एक ही रात में जलाकर मामले को रफा-दफा कर दिया। घटना स्थल से सारे जरूरी सबूत भी मिटा दिये गये यहां तक की दोनों की चिताओं की राख को भी पास में बहते एक नाले में डाल कर सारे सबूत मिटाने की कोशिश की गयी। एक तरफ तो हम 21 वीं सदी में होने का दावा करते हैं और दूसरी तरफ इस तरह की घटनायें तरक्की के माथे पर कलंक साबित हो रही हैं......॥

3 comments:

  1. बहुत बढ़िया अली साहब जबाब नहीं पूरी जानकारी को इतने अच्छे शब्दो मे पिरो कर देने के लिए धन्यवाद॥

    ReplyDelete
  2. बहुत ही बेहतरीन रचना....
    मेरे ब्लॉग

    विचार बोध
    पर आपका हार्दिक स्वागत है।

    ReplyDelete